X Close
X
7080804000

विदेशों में फंसे प्रवासी राजस्थानियों को लेकर आएगी 12 जुलाई तक 11 फ्लाइट


WhatsApp-Image-2020-06-29-at-10.01.23-PM.jpeg
Lucknow: ब्यूरो हैड राहुल भारद्वाज रीडर टाइम्स न्यूज़ • उदयपुर में भी फ्लाइट लैण्ड कराने का प्रस्ताव-एसीएस उद्योग जयपुर : अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया है कि वंदे भारत मिशन के तहत 30 जून से 12 जुलाई के बीच 11 फ्लाइटें प्रवासी राजस्थानियों को लेकर आएगी। उन्होंने बताया कि इनमें से 5 फ्लाइट कुवेत से आएगी वहीं मास्कों, दुबई, किर्गिस्तान व यूक्रेन से एक-एक और बहरीन से दो फ्लाइट से प्रवासी राजस्थानी आएंगे। 28 जून तक प्रदेश में 57 फ्लाइट से 8846 प्रवासी राजस्थानी आए हैं। एसीएस उद्योग डॉ. सुबोध अग्रवाल ने आज सचिवालय में उच्च स्तरीय बैठक में विदेशों से वापिस आ रहे प्रवासी राजस्थानियों की अब तक की व्यवस्थाओं व आगे की तैयारियों की समीक्षा की। बैठक में एमडी रीको आशुतोष पेडनेकर, जयपुर जिला कलक्टर जोगाराम, क्वारंटाइन अधिकारी बीसी गंगवाल, डॉ. निर्मल जैन, डॉ. गौतम शर्मा, अकुल भार्गव, उपनिदेशक पर्यटन उपेन्द्र सिंह, रीको के सलाहकार राजेन्द्र शर्मा, जेडीए के अधिकारी सहित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। उन्होंने बताया कि उदयपुर संभाग के विदेशों में फंसे प्रवासियों को लाने वाली फ्लाइटों को जयपुर के स्थान पर उदयपुर लैण्ड कराने का प्रस्ताव है। वहीं जयपुर से बसों के माध्यम से उदयपुर संभाग के जिलों में संस्थागत क्वारंटाइन के लिए भेजा जा रहा है। उन्होंने जयपुर के प्रवासियों की संस्थागत क्वारंटाइन की व्यवस्थाओं की समीक्षा की भी समीक्षा की और आवश्यक निर्देश दिए। रीको के प्रबंध संचालक आशुतोष पेडनेकर ने बताया कि जयपुर में 149 प्रवासी राजस्थानियों को लेकर पहली फ्लाइट लंदन से 22 मई को आई थी। उन्होंने बताया कि प्रवासी राजस्थानियों की संस्थागत क्वारंटाइन सहित सभी व्यवस्थाएं सुचारु रुप से संचालित हो रही है।सोमवार को दोपहर सउदी अरब से आई फ्लाइट में 177 प्रवासी राजस्थानी जयपुर आए हैं वहीं देर रात मास्कों से एक फ्लाइट आने की संभावना है।  बैठक में उभरकर आया कि कजाकिस्तान से आ रही फ्लाइटों में वहां अध्ययनरत बच्चे आ रहे हैं और इनमें कोरोना संक्रमित प्रतिशत अपेक्षाकृत अन्य फ्लाइटों की तुलना में बहुत अधिक है। बैठक में बताया गया कि जेडीए द्वारा स्थानीय प्रशासन के सहयोग से निःशुल्क संस्थागत क्वारंटाइन में सभी आवश्यक व्यवस्थाएं व खाना-नाश्ता आदि की स्तरीय व्यवस्था की जा रही है।